नॉर्मल डिलीवरी में भी क्‍यों लगते हैं टांके और कितने दिनों में होते हैं ये ठीक?

0
19

जिन महिलाओं की नॉर्मल यानि वैजाइनल डिलीवरी हुई होती है, उन्‍हें पेरिनियम टियर या एपिसियोटोमी कट को भरने के लिए टांके लगाए जाते हैं। डिलीवरी के कुछ हफ्तों बाद जब घाव भरता है, तो ये टांके अपने आप घुल जाते हैं। इन टांकों में दर्द हो सकता है और आपको इंफेक्‍शन से बचने के लिए साफ-सफाई का खास ध्‍यान रखना होता है।

वैजाइनल डिलीवरी के दौरान योनि और गुदा के बीच का हिस्‍सा काफी स्‍ट्रेच हो जाता है। कई बार इसमें इतना खिंचाव आ जाता है कि ये छिल जाता है। जब पेरिनियम स्‍ट्रेच होना शुरू करता है, तो ज्‍यादातर गायनेकोलॉजिस्‍ट सर्जिकल कट लगा देते हैं। इस कट को एपिसिओटोमी कहते हैं। अगर टियर काफी गहरा हो तो ऊतकों और स्किन को ठीक करने के लिए टांके लगाए जाते हैं।

कभी-कभी कम टियर होने पर सिर्फ स्किन की परत ही छिलती है और इसमें टांके लगाने की जरूरत नहीं पड़ती है। इसे फर्स्‍ट डिग्री टियर कहा जाता है। अगर आप एपिसिओटोमी नहीं हुई है तो अच्‍छी बात है। फर्स्‍ट डिग्री टियर में टांकों की जरूरत नहीं पड़ती है। अगर आपकी भी हाल ही में डिलीवरी होने वाली है तो आप यहां जान सकती हैं कि नॉर्मल डिलीवरी के बाद लगने वाले टांके कितने दिनों में ठीक होते हैं।

टांके कब होते हैं हील

मदर्स लैप आईवीएफ सेंटर की मेडिकल डायरेक्टर और आईवीएफ एक्सपर्ट डॉक्‍टर शोभा गुप्ता बताती हैं कि टांके आमतौर पर प्रसव के दो सप्ताह के भीतर अपने आप घुल जाते हैं, लेकिन घाव को पूरी तरह से ठीक होने में अधिक समय लगता है। आपका घाव कितनी जल्दी भरता है यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपके टियर या एपसिओटोमी का कट कितना गहरा था।

एक विशिष्ट एपिसीओटॉमी या दूसरी डिग्री का टियर जिसमें मांसपेशियों को काट दिया गया है या फट गई हैं, आमतौर पर दो से तीन सप्ताह में ठीक हो जाता है। कुछ महिलाओं को एक या दो महीने तक दर्द और बेचैनी महसूस होती है।

​टियर गहरा हो तो

95737511

अगर एपिसिओटोमी कट टियर गहरा और आपको थर्ड या फोर डिग्री टियर हो जो कि रेक्‍टत तक पहुंच गया हो तो आपको लंबे समय तक दर्द और असहजता महसूस हो सकती है।

डिलीवरी के बाद पहले कुछ दिनों में पेशाब और मल त्‍याग करने में दिक्‍कत हो सकती है। आपका गैस या मल रोकने में भी कुछ महीने या सालों तक परेशानी हो सकती है।

फोटो साभार : TOI

​कैसे करें देखभाल

95737446

अस्‍पताल से घर आने के बाद अगर आपको टांके लगे हैं तो कम से कम पहले कुछ दिनों तक ज्यादा देर न बैठें। बैठने से आपके शरीर का भार आपके पेल्विक फ्लोर पर पड़ता है। इसके बजाय, खड़े होने, चलने, लेटने या झुकी हुई स्थिति में बैठने की कोशिश करें।

फोटो साभार : TOI

​ये चीजें अपनाएं

95737382

लोअर बॉडी के हिस्‍सों में ब्‍लड सर्कुलेशन में सुधार के लिए पेल्विक फ्लोर व्यायाम, जिसे कीगल एक्‍सरसाइज भी कहा जाता है, करें। यह घाव को ठीक करने और आपकी मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करेगा, जिससे पेशाब को रोकने की क्षमता में सुधार होगा।

फोटो साभार : TOI

​डॉक्‍टर को कब बताएं

95737351

आपके टांके कम होने के बजाय समय के साथ अधिक दर्दनाक हो जाते हैं तो इस स्थिति में आपको अपने डॉक्‍टर से बात करनी चाहिए। इसके अलावा अगर टांके से बदबू आने लगती है या आपको बदबूदार डिस्चार्ज होता है, पेशाब या मल को रोकने में कठिनाई होती है (जैसे कि जब आप गैस पास करते हैं तो मल का रिसाव होता है), पेशाब करते समय दर्द होता है, आपको पेट के निचले हिस्से में या पेरिनियमम के आसपास तेज दर्द होता है, बुखार है तो आपको डॉक्‍टर को दिखाना चाहिए।

फोटो साभार : TOI

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here