प्रेग्‍नेंसी में गर्मी से छूट रहा है पसीना, इस चीज को पीकर महसूस होगी बर्फ-सी ठंडक, पोषण भी मिलेगा भरपूर

0
44

गर्भावस्‍था के एक मुश्किल समय और इस दौरान कई तरह की समस्‍याएं हो सकती हैं। वहीं प्रेग्‍नेंसी में महिलाओं को पोषण की भी बहुत जरूरत होती है। गर्मी का मौसम किसी भी गर्भवती महिला के लिए मुश्किल होगा क्‍योंकि इस मौसम में पाचन क्षमता कमजोर हो जाती है और कई चीजें तो खाने का ही मन नहीं करता है। हालांकि, तब भी गर्भवती महिला को अपने बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए खानपान का ध्‍यान रखना ही पड़ता है। ऐसे में अगर आपको गर्मी सता रही है और आप कोई हेल्‍दी स्‍नैक ढूंढ रही हैं, तो अंगूर की लस्‍सी आपको पसंद आ सकती है। ये गर्मी के लिए बेहतरीन ड्रिंक है और आपको पोषण भी देगी।

इस आर्टिकल में हम आपको बता रहे हैं कि गर्भवती महिला अपने लिए अंगूर की लस्‍सी कैसे बना सकती है और इससे उसे एवं उसके बच्‍चे को क्‍या पोषण मिलेगा।

क्‍या-क्‍या चाहिए
अंगूर की लस्‍सी बनाने के लिए आपको दो कप कालू अंगूर, एक कप ताजी लो फैट दही, एक कप लो फैट दूध, 4 चम्‍मच चीनी और बर्फ के कुछ टुकड़े चाहिए।

​ग्रेप लस्‍सी कैसे बनाएं

ग्रेप लस्‍सी बनाना बहुत ही आसान है। इसे बनाने के लिए आप सभी चीजों को एकसाथ ब्‍लेंड कर दें और फिर इसमें बर्फ डाल दें। इसे गिलास में डालकर सर्व करें।

फोटो साभार : unsplash

​ये‍ टिप आएगा काम

navbharat times

काले अंगूर दही के साथ अच्‍छी तरह से ब्‍लेंड हो जाते हैं और इससे फाइबर भी खूब मिलता है। गर्मियों में प्‍यास को बुझाने के लिए लस्‍सी बहुत अच्‍छी रहती है और इससे पोषण भी खूब मिलता है।

फोटो साभार : unsplash

​कितना है पोषण

navbharat times

एक गिलास लस्‍सी में 105 कैलोरी एनर्जी, 3.8 ग्राम प्रोटीन, 21.5 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 0.8 ग्राम फाइबर, 0.3 ग्राम फैट और 0.1 मिलीग्राम कोलेस्‍ट्रॉल होता है।

फोटो साभार : unsplash

​प्रेग्‍नेंसी में अंगूर की लस्‍सी पीने के फायदे

navbharat times

प्रेग्‍नेंसी के दौरान अक्‍सर महिलाओं को अधिक गर्मी लगने की शिकायत हो जाती है। गर्मी के मौसम में यह लक्षण ज्‍यादा परेशान कर सकता है। प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्‍नीशियम और रेसवेराट्रोल से भरपूर अंगूर की लस्‍सी हॉट फ्लैशेज को दूर करने में मदद करती है।

फोटो साभार : TOI

​प्रेग्‍नेंसी में अंगूर खाने से क्‍या होता है

navbharat times

गर्भावस्‍था में डाइट में अंगूरों को शामिल करने से शिशु के विकास के लिए जरूरी सभी तरह के पोषक तत्‍व मिल जाते हैं।

अंगूर विटामिन सी और के, फोलिक एसिड, एंटीऑक्‍सीडेंटों और फाइबर से भरपूर होते हैं। इसमें पर्याप्‍त मात्रा में ऑर्गेनिक एसिड, एंटीऑक्‍सीडेंट और पेक्टिन भी होता है जो इम्‍यूनिटी को बढ़ाने का काम करता है।

फोटो साभार : TOI

​स्‍टडी करती है सपोर्ट

navbharat times

एक रिपोर्ट के अनुसार अंगूर में मौजूद रेसवेराट्रोल प्रेग्‍नेंसी में डायबिटीज मेलिटस के जोखिम को कम करती है और लिपिड प्रोफाइल और ग्‍लूकोज ब्‍लड लेवल में सुधार करता है।

वहीं प्रेग्‍नेंसी के दौरान रेसवराट्रोल सप्‍लीमेंट लेने से मां का वजन कम करने, ग्‍लूकोज टॉलरेंस में सुधार करने और यूट्राइन आर्टरी में खून का प्रवाह बढ़ाने में मदद मिलती है।

फोटो साभार : TOI

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here