प्राकृतिक छटाओं को निहारने नॉर्थ ईस्ट में व्यू पॉइंट्स तैयार करेगी सरकार, पर्यटकों को लुभाने की कोशिश

0
14

नई दिल्ली: केंद्र सरकार पूर्वोत्तर भारत को विश्व के नक्शे पर उभारने की नित नई योजना पर काम कर रही है। अब नॉर्थ ईस्ट इलाके में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार का पर्यटन मंत्रालय व्यू पॉइंट्स तैयार करने जा रहा है। मंत्रालय की योजना है कि आने वाले समय में नॉर्थ ईस्ट में लगभग 100 व्यू पॉइंट्स विकसित किए जाएं। पर्यटन मंत्रालय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय एवं डोनर मंत्रालय (Ministry of Development of North Eastern Region) के साथ मिलकर इस योजना को आगे बढ़ाएगा।

दरअसल, सरकार का मानना है कि पूरे नॉर्थ ईस्ट की प्राकृतिक छटाएं हर किसी का मन मोहने में सक्षम हैं। लेकिन इलाके की असली कुदरती खूबसूरती अभी भी देश-दुनिया के सामने ठीक से आई नहीं है। अगर यहां व्यू पॉइंट्स विकसित किए जाएं तो लोग यहां आकर उन्हें देखना चाहेंगे, जिससे पर्यटन को बढ़ावा मिलने के साथ-साथ यहां की इकॉनमी को बूस्ट मिलेगा।

सूत्रों के मुताबिक, हर व्यू पॉइंट को एक कॉम्प्लेक्स के तौर पर तैयार किया जाएगा। जहां कुदरती नजारों को निहारने का मौका होने के साथ-साथ वहां कुछ फूड जॉइंट्स और टॉयलेट जैसी कुछ मूलभूत सुविधाएं भी मुहैया कराई जा सकें। यहां एकाध सेल्फी पॉइंट्स भी बनाए जाएंगे ताकि पयर्टक यहां आकर सेल्फी ले सकें या फोटो खिंचवा सकें। मंत्रालय का मानना है कि जब लोग यहां आएंगे तो इससे पर्यटन के साथ-साथ स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के मौके बढ़ेंगे।

इस सिलसिले में पर्यटन मंत्रालय ने पिछले दिनों पूर्वोतर के राज्यों की एक कमिटी भी बनाई है। पर्यटन मंत्रालय की ओर से 49 करोड़ की लागत से 22 व्यू पॉइंट्स विकसित किया जा रहा है। अकेले मिजोरम में 12.78 करोड़ की लागत से नौ व्यू पॉइंट्स तैयार होंगे। वहीं सरकार परिवहन मंत्रालय अपनी ओर से भी व्यू पॉइंट्स तैयार कर रहा है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here