SRH vs LSG Highlights: लखनऊ सुपर जायंट्स की हैदराबाद पर नवाबी जीत, केएल राहुल-दीपक हुड्डा के बाद आवेश खान और जेसन होल्डर का धमाल

0
44

मुंबई: कप्तान केएल राहुल (KL Rahul Fifty, 68) और दीपक हुड्डा (Deepak Hooda, 51) की तूफानी हाफ सेंचुरी के बाद आवेश खान (24/4) और जेसन होल्डर (34/3) की आग बरसाती गेंदों के आगे सनराइजर्स हैदराबाद (LSG Beat SRH) के बल्लेबाज बेबस नजर आए और लखनऊ सुपर जायंट्स ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के एक मुकाबले में 12 रनों से नवाबी जीत दर्ज की। मैच में लखनऊ सुपर जायंट्स ने पावरप्ले में तीन विकेट गंवाने के बाद कप्तान लोकेश राहुल और दीपक हुड्डा के बीच चौथे विकेट के लिए 87 रन की साझेदारी से उबरते हुए 7 विकेट पर 169 रन बनाए। जवाब में हैदराबाद 17 ओवरों तक जीतते दिख रही थी, लेकिन आवेश खान ने दो विकेट झटकते हुए उसकी कमर तोड़ दी। लखनऊ की यह दूसरी जीत है, जबकि हैदराबाद की दूसरी हार है।

आवेश और होल्डर के झटकों से थर्राई हैदराबाद
हैदराबाद जीत की ओर बढ़ रही थी कि 18वां ओवर करने आए आवेश खान ने पहली गेंद पर छक्का खाने के बाद निकोलस पूरन और अब्दुल समद को आउट कर कर दिया। इस ओवर में पहली गेंद पर छक्का लगने के बाद वाइड से एक अतिरिक्त रन बना, जबकि 5 ऑफिशल गेंद डॉट रहीं। इससे मैच का रुख ही बदल गया। आखिरी के दो ओवरों में हैदराबाद को जीत के लिए 26 रनों की जरूरती थी, लेकिन वह 157 रन तक ही पहुंच सका, क्योंकि आखिर ओवर करने आए होल्डर ने 3 विकेट झटकते हुए सिर्फ 3 रन दिए, जबकि जीत के लिए हैदराबाद को 16 रनों की जरूरत थी।। होल्डर ने वॉशिंगटन सुदंर (18), भुवनेश्वर कुमार (1) और रोमारियो शेफर्ड (8) के विकेट झटके।

IPL 2022 Points Table: लाखनऊ सुपर जायंट्स की नवाबी जीत से टॉप में हुई एंट्री, देखें अन्य टीमों का हाल
लखनऊ सुपर जायंट्स के गेंदबाजों ने महज 169 रन के स्कोर का अच्छा बचाव किया जिसमें आवेश की भूमिका अहम रही, उनका अंतिम और पारी का 18वां ओवर अहम रहा जिसमें उन्होंने निकोलस पूरन और अब्दुल समद के दो विकेट झटके। अंतिम ओवर में जेसन होल्डर (34 रन देकर तीन विकेट) ने तीन विकेट चटकाए। क्रुणाल पंड्या ने 27 रन देकर दो विकेट हासिल किए। बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद लखनऊ सुपर जायंट्स की शुरुआत अच्छी नहीं रही, उसका स्कोर 4.5 ओवर में तीन विकेट पर 27 रन था।

वॉशिंगटन सुंदर (28 रन देकर दो विकेट) ने सनराइजर्स हैदराबाद को शुरुआती विकेट दिलाए। सबसे पहले उन्होंने दूसरे ओवर में सलामी बल्लेबाज क्विंटन डि कॉक (01) को कप्तान केन विलियमसन के हाथों कैच आउट कराया और फिर चौथे ओवर में एविन लुईस (01) को LBW आउट किया। लखनऊ सुपर जायंट्स के कप्तान राहुल और मनीष पांडे (11) अपनी टीम को संभालने का प्रयास कर ही रहे थे कि शेफर्ड (42 रन देकर दो विकेट) ने उन्हें तीसरा झटका दिया। पांडे ने शेफर्ड के इस पहले ओवर की दूसरी गेंद को चौके और अगली गेंद को डीप स्क्वेयर लेग पर छक्के के लिए भेजा। वह छक्का लगाते हुए कैच आउट होने से बच गए थे।

navbharat times
Kaun Pravin Tambe: धोनी जैसी कहानी, 20 साल का संघर्ष, 41 की उम्र में डेब्यू फिर IPL में विकेट-विकेट-विकेट
पांचवीं गेंद पर मिडऑन पर भुवनेश्वर कुमार को कैच देकर आउट हो गए। इससे छह ओवर के बाद टीम का स्कोर तीन विकेट पर 32 रन था। पर ‘स्ट्रेटेजिक टाइम आउट’ के बाद राहुल और हुड्डा ने आक्रामक रवैया दिखाया जिसमें इन दोनों ने मिलकर तीन चौके और एक छक्के से 10वें ओवर में 20 रन जुटाए। दोनों एक एक रन के साथ बीच बीच में बाउंड्री लगाकर जिम्मेदारी से खेलते हुए अपने अर्धशतकों की ओर बढ़ रहे थे। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 62 गेंद में 87 रन की भागीदारी निभाकर टीम को वापसी कराने में अहम भूमिका निभायी। शेफर्ड ने फिर हुड्डा का विकेट झटककर लखनऊ की टीम को चौथा झटका दिया।

अब आयुष बदोनी (19) क्रीज पर थे जिन्होंने कप्तान राहुल का अच्छा साथ दिया जिससे दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 18 गेंद में 30 रन जोड़े। राहुल आउट होने वाले पांचवें खिलाड़ी बने, अगर वह क्रीज पर अंत तक टिके रहते तो शायद यह स्कोर और बड़ा हो सकता था। टी नटराजन (26 रन देकर दो विकेट) की गेंद पर राहुल के पगबाधा आउट होने के बाद बदोनी के अलावा कोई उपयोगी योगदान नहीं कर सका जो अंतिम गेंद पर रन आउट हुए। टीम ने अंतिम पांच ओवर में 55 रन बनाकर चार विकेट गंवाए।

navbharat timesMS Dhoni 350th T20 Match: एमएस धोनी नहीं रहे बेस्ट फिनिशर? 350वें T20 में चेन्नई सुपर किंग्स की शर्मनाक हार
सनराइजर्स हैदराबाद ने भी शुरुआती दो विकेट पावरप्ले में गंवा दिए थे। केन विलियमसन (16) और अभिषेक शर्मा (13) की शुरुआत धीमी रही। इससे पहले की तेजी से रन बटोरने की शुरुआत होती, दोनों आवेश खान का शिकार बन गए। टीम के शीर्ष स्कोरर राहुल त्रिपाठी (44) और एडेन मार्कराम (12) ने 31 गेंद में 44 रन जोड़कर अच्छा योगदान दिया। निकोलस पूरन (34 रन) अपनी टीम को जीत की ओर ले जाने के लिए अच्छे शॉट जमा रहे थे लेकिन 18वें ओवर में आवेश खान की शॉर्ट गेंद पर पुल शॉट से डीप स्क्वेयर लेग पर गगनचुंबी छक्का जड़ने के बाद वह इसी गेंदबाज का शिकार बन गए।

आवेश खान की फुल टॉस गेंद पर ऊंचा शॉट खेलने की कोशिश में हुड्डा को कैच थमा कर पूरन गलत समय आउट हुए क्योंकि टीम की उम्मीदें उनसे लगी थी। फिर अब्दुल समद क्रीज पर उतरे और आवेश खान ने अपना जलवा जारी रखते हुए यार्कर से उन्हें विकेट के पीछे क्विंटन डि कॉक के हाथों कैच आउट कराया। अंतिम दो ओवर में टीम को जीत के लिए 26 रन चाहिए थे। 19वें ओवर में 10 रन बने। अंतिम ओवर में जेसन होल्डर की पहली गेंद पर वॉशिंगटन सुंदर (18), चौथी गेंद पर भुवनेश्वर कुमार (01) और अंतिम गेंद में रोमारियो शेफर्ड (08) का विकेट गिरा।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here