छुट्टी पर हों या ड्यूटी पर… यूक्रेन गए तो तुरंत होगा कोर्ट मॉर्शल, अपने ही सैनिकों को धमका क्यों रहा ब्रिटेन?

0
44

लंदन: ब्रिटिश रक्षा मंत्रालय (UK Ministry of Defence) ने कहा है कि कोई भी सैनिक बिना बताए यूक्रेन (UK Ukraine Relations) गया तो उसका कोर्ट मार्शल किया जाएगा। दावा किया जा रहा है कि ब्रिटिश सेना के चार सैनिक यूक्रेन (British Troops in Ukraine) की तरफ से युद्ध लड़ रहे हैं। जिसके बाद ब्रिटिश रक्षा मंत्रालय को अपने सैनिकों को अनुशासित रखने के लिए चेतावनी जारी करनी पड़ी है। इसमें कहा गया है कि सभी सैनिकों को बिना अनुमति के यूक्रेन की यात्रा करने से प्रतिबंधित किया गया है। इस आदेश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। ब्रिटेन ने पहले ही यूक्रेन को सैनिक भेजने से इनकार किया है। इसकी जगह ब्रिटिश सरकार ने भारी मात्रा में एंटी एयरक्राफ्ट और एंटी आर्मर मिसाइलों की सप्लाई की है।

सैनिकों के यूक्रेन जाने पर लगा प्रतिबंध
ब्रिटिश रक्षा मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि सभी सेवा कर्मियों को अगली सूचना तक यूक्रेन की यात्रा करने से प्रतिबंधित कर दिया गया है। यह छुट्टी पर गए या ड्यूटी पर तैनात सभी सैनिकों पर लागू होता है। ऐसे में आदेश के खिलाफ यूक्रेन की यात्रा करने वाले कर्मियों को अनुशासनात्मक और प्रशासनिक परिणामों का सामना करना पड़ेगा। द सन की एक रिपोर्ट में चेतावनी दी गई थी कि ब्रिचिश सेना के कई सैनिक यूक्रेन की तरफ से युद्ध लड़ रहे हैं। इनमें विंडसर बैरक का एक सैनिक 19 वर्षीय कोल्डस्ट्रीम गार्ड्समैन भी शामिल है। उसने अपने माता-पिता को चिट्ठी लिखकर इसकी जानकारी दी थी। यूक्रेन पहुंचने के लिए उसने पोलैंड का टिकट भी खरीदा था।

Russia Ukraine Latest News : रूसी सेना यूक्रेन में बंद पड़े परमाणु कचरों पर बरसा रही मिसाइलें, अब कीव में रेडिएशन फैलने का खतरा
उल्लंघन करने पर होगा कोर्ट मार्शल
ब्रिटिश ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर ग्रांट शाप्स ने भी कहा कि प्रतिबंध का उल्लंघन करने का प्रयास करने वाले ब्रिटिश सैनिकों के खिलाफ कोर्ट मार्शल का मुकदमा चलाया जाएगा। उसके इस कार्य से खतरनाक स्थिति पैदा हो सकती है। शाप्स ने बुधवार को आईटीवी से बात करते हुए कहा कि ब्रिटेन की अपनी सेना भेजने और कुछ लोगों के कानून तोड़कर इसे करने के बीच बड़ा अंतर है। हम सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हम जो सहायता प्रदान कर रहे हैं वह आधिकारिक तरीके से हो। उन्होंने बताया कि हमने पहले और इस संघर्ष के दौरान यूक्रेन को एंटी टैंक और एंटी आर्मर मिसाइलें भेजी हैं। हमने 22,000 यूक्रेनियन को ट्रेनिंग भी दी है।

navbharat times
Third World War: परमाणु हथियारों से तीसरा विश्व युद्ध छेड़ा गया तो… रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने खुलेआम दी चेतावनी
ब्रिटिश रक्षा मंत्री ने भी की अपील
ब्रिटिश रक्षा मंत्री बेन वालेस ने पहले ही ब्रिटेन के लोगों को यूक्रेन की तरफ से लड़ाई में शामिल न होने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि मैं ब्रिटिश लोगों को मरते हुए नहीं देखना चाहता। उन्होंने यह भी बताया कि यूक्रेन के हालात बहुत खराब हैं। इससे पहले ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा था कि उनका देश रूस के खिलाफ प्रतिबंधों को लगाना जारी रखेगा। हालांकि, उन्होंने ब्रिटेन को सीधे युद्ध में शामिल करने से साफ इनकार किया था।

British Army 02

ब्रिटिश सैनिकों के यूक्रेन जाने पर प्रतिबंध

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here